Mini computer क्या है? What is Mini Computer in HIndi

Mini computer क्या है? (What is Mini Computer in HIndi) क्या आप mini computer शब्द से अनजान है तो कोई बात नहीं, आज के इस post के माध्यम से हम जानेंगे की mini computer क्या होता है?(mini computer kya hai ) साथ ही हम लोग mini computer के इतिहास तथा प्रकार के बारे में भी विस्तार से चर्चा करेंगे |

Mini computer क्या है?

जैसा की इनके नाम से ही पता चलता है कि यह mini यानी एक छोटे आकर का computer ही होता है | यू तो इसका आकार छोटा होता है लेकिन इसकी भण्डारण क्षमता ज्यादा होती है और साथ ही इसकी कार्य करने की गति भी तेज होती है |

यदि आकर की दृष्टिकोण से देखे तो इसका आकर micro computer से थोरा बड़ा तथा mini computer से थोरा छोटा होता है अर्थात हमलोग कह सकते है कि mini computer का आकर micro तथा mini computer के आकर के बीच का होता है |

Micro computer का इस्तेमाल अधिकतर व्यापार के क्षेत्र में किया जाता है | ऐसा माना जाता है कि mini computer का विकास व्यापार को अच्छे स्थिति में लाने के लिए किया गया है |

आजकल लगभग सभी बड़े व्यापारी, व्यापार के लिए mini computer का ही इस्तेमाल करते है |

खास तोर पर database management file handling आदि कार्यो के लिए mini computer ने म्हणता हासिल की है |

कई जगह mini computer को Mid Range Server भी कहा जाता है | जिसे network का भी एक भाग माना जाता है |

Mini computer की परिभाषा:

mini computer, computer की उस प्रकार को कहते है जिसमे computer की सारी features मौजूद हो लेकिन उसका आकार सामान्य computer की तुलना में थोड़ा छोटा हो |

Mini computer का उपयोग:

सामान्य तोर पर mini computer का उपयोग छोटे व्याब्सयी करते है लेकी वर्तमान समय में mini computer का प्रचलन लगभग सभी लोगो में बड़े पैमाने में किया जाता है |

कंप्यूटरों का इस्तेमाल दैनिक जीवन के वैसे कार्य जिसके लिए computer की आवश्यकता पड़ती है, उसके लिए आसानी से किया जा सकता है

Mini computer के साथ किसी भी output device का उपयोग किया जा सकता है, जैसे- Pen drive, printer आदि |

इसका इस्तेमाल आज के समय में online कार्य जैसे Digital Marketing, Blogging आदि लोगों में भी आराम से किया जा सकता है |

Mini computer का इतिहास:

minicomputer kya hai, mini computer ka itihas
minicomputer kya hai, mini computer ka itihas

Mini computer का इस दुनिया में प्रवेश 1960 के दशक में हुआ था | उस समय इस computer को बनाने का उद्देश्य छोटे व्यापारियों की मदद करना था | जो आगे चलकर वास्तव में छोटे व्यापारियों के लिए बहुत लाभदायक हुआ |

यह computer को micro computer से आकार में थोरा बड़ा बनाया गया जिस कारण इसका मूल्य भी micro computer से थोरा ज्यादा रखा गया, लकिन mini computer की कार्य क्षमता micro computer से बहुत जयादा होने के कारण 1960 के दशक के बाद लोग micro तथा mainframe computer की जगह mini computer को ही प्राथमिकता देने लगे और व्यापार तथा अन्य कामों के लिए mini computer ही खरीदने लगे | जिससे इसकी लोकप्रियता आगे चलकर बहुत जयादा होने लगी |

यह computer का मूल्य मध्य रेंज में होने के कारण Mid range computer भी कहा गया और इस computer में एक साथ एक से अधिक उपयोगकर्ता, उपयोग कर सकता था | जिससे यह उस समय छोटे व्यवसायी के लिए एक वरदान के रूप में साबित हुआ |

1960 के दशक से पहले computer की लोकप्रियता आज के समय से बहुत कम थी | उस समय computer को छोटे transistor और core memory टेक्निक का इस्तेमाल करके बनाया जाता था | जिसकी performance तथा कार्य करने की क्षमता बहुत कम होती थी और इसे बनाने में खर्च भी बहुत होता था |

पहला mini computer को transistor का उपयोग कर बनाया गया था | जिसकी लागत लगभग 16000 US डॉलर आयी थी | जो भारतीय मुद्रा के अनुसार काफी ज्यादा है |

Mini computer का प्रकार:

आज के समय में mini computer का इस्तेमाल हमलोग आपने दैनिक जीबन में बड़े पैमाने में करते है | आज के समय में उपयोग होने वाली Tablet, cellphone, Laptop, minicomputer desktop आदि  mini computer का ही एक प्रकार है | mini computer के कारण मानव जीवन में एक बहुत ही बड़ी क्रांति आयी है और इसके कारण ही वर्तमान युग digital युग की ओर तेजी से बढ़ रहा है| मिनी कंप्यूटर का प्रचालन आजकल दिन-प्रतिदिन बढती जा रही है, ऐसा कहा जा सकता है की मिनी कंप्यूटर आजकल लोगों के जीवन का हिस्सा बन चुका है| चाहे वो शिक्षा के क्षेत्र में हो या बिज़नस इसके उपयोग के बिना बहुत मुस्किल हो जाता है|

Mini computer का आकार:

अगर हम mini computer की आकार की चर्चा करें तो इसका आकार लगभग 10 इंच से 16 इंच तक का हो सकता है | यह छोटा होने के कारण इसका एक स्थान से दूसरे स्थान में ले जाने में कोई भी परेशानी नहीं होती है | इसे students के एक सबसे अच्छा computer माना जाता है| साथ-ही स्टूडेंट्स आजकल मिनी कंप्यूटर का उपयोग कर बड़ी से बड़ी सॉफ्टवेर बनाती है और देश विदेश में अपना नाम रौशन करती है|

Mini computer की विशेषता:

इस computer को एक साथ कई व्यक्ति कम में ला सकते है | जिसके कारण उसे बहु-उपयोगकर्ता भी कहा जाता है |

  •    इसमे storage की क्षमता अधिक होती है |
  •    इसकी processing speed भी micro computer की तुलना में तेज होती है |
  •  मूल्य भी micro computer से ज्यादा होगी |
  •   DDP-1 तथा DEC आदि सबसे लोकप्रिय mini computer है|
  • मानव जीवन को सरल बनती है|
  • शिक्षा के क्षेत्र में अन्यंत लाभकारी
  • छोटे बिज़नस को देश-विदेश में फ़ैलाने में मिनी कंप्यूटर का बहुत बड़ा योगदान होता है|

इसे भी पढ़े –

JPEG क्या है? JPG और JPEG में अंतर

 निष्कर्ष:

आज के इस post के माध्यम से हम लोग ने सिखा कि mini computer क्या है (what is mini computer in hindi ), mini computer के प्रकार तथा इतिहास को समझा |

अगर आपको यह post, Minicomputer क्या है? पसंद आया तो अपने दोस्तों के साथ इस post को सोशल media के माध्यम से share जरूर करे |धन्यवाद!

Suraj Sharma

Suraj Sharma इस ब्लॉग का Founder और Technical लेखक जो टेक से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण बातों को आसान भाषा में भारत के सभी नागरिक तक पहुचाना चाहता है|

This Post Has 3 Comments

Leave a Reply